Lokesh Bhardwaj

रामायण के मुख्य पात्र हनुमान की कहानी

रामायण के मुख्य पात्र हनुमान की कहानी | भक्ति और शक्ति का प्रतीक हनुमान की जीवनी

हनुमान हिंदू पौराणिक कथाओं के सबसे लोकप्रिय और प्रसन्न देवताओं में से एक हैं। हनुमान आध्यात्मिक जीवन के लिए आवश्यक सभी गुणों के प्रतीक हैं- शारीरिक और मानसिक शक्ति, साहस, विनम्रता, श्रद्धा, भक्ति और अपने भगवान राम के प्रति समर्पण। महान हिंदू महाकाव्य रामायण में सबसे महत्वपूर्ण पात्रों में से एक के रूप में हनुमान […]

Read More
देवी सीता

रामायण की मुख्य चरित्र माता सीता के जीवन की कहानी | साहस और धैर्य की प्रतीक माँ सीता

देवी सीता हिंदू पौराणिक कथाओं में श्री महा विष्णु के सातवें अवतार भगवान राम की पत्नी हैं। सीता देवी एक प्रमुख हिंदू महाकाव्य रामायण में मुख्य पात्र है। बिहार (भारत) में सीतामढ़ी (पुनौरा) में जन्मी सीता को उनके पिता महाराजा जनक द्वारा उनके जन्म के तुरंत बाद जनकपुर (वर्तमान नेपाल में) ले जाया गया था। […]

Read More
animated arjun mahabharat wallpaper hd

महाभारत के महान योद्धा अर्जुन की जीवनी | अब तक का सबसे महान धनुर्धर अर्जुन की कहानी

पांडव भाइयों में से तीसरे अर्जुन, महाभारत में एक मुख्य नायक थे। उन्हें अक्सर जिष्णु कहा जाता है- अपराजेय। उन्हें नारायण के शाश्वत साथी, ऋषि नारा का पुनर्जन्म भी माना जाता है। अर्जुन स्वयं भगवान कृष्ण के प्रिय मित्र, बहनोई भी थे। वास्तव में केवल कृष्ण के अटूट समर्थन ने ही अर्जुन को युद्ध में […]

Read More
सीता माता का मंदिर करीला ग्राम

सीता माता का ये एक मात्र अनोखा और प्राचीन रामायण कालीन मंदिर हैं

मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले से 35 किलोमीटर दूर करीला ग्राम में रंगपंचमी के दिन एक भव्य मेला का आयोजन होता है। मान्यता है कि यहां माता सीता और उनके पुत्र लव-कुश का एक मात्र ऐसा दुर्लभ मंदिर है जो भारत में कहीं नहीं हैं। माता सीता करीला में भगवान राम के बिना अकेले ही स्थापित […]

Read More
कर्ण की कहानी

महाभारत के महान योद्धा कर्ण की जीवनी | दानवीर कर्ण की कहानी

कर्ण या राधेय, जैसा कि उन्हें भी संदर्भित किया जाता है, महाभारत में एक महत्वपूर्ण चरित्र है। अंग के राजा कर्ण, कुंती और भगवान सूर्य के पुत्र थे। कर्ण कौरव भाइयों में सबसे बड़े दुर्योधन का सबसे करीबी दोस्त थे। कुरुक्षेत्र युद्ध के दौरान उन्होंने अपने ही भाइयों के खिलाफ दुर्योधन की ओर से युद्ध लड़ा। कर्ण को […]

Read More
अश्वत्थामा

महाभारत के महान योद्धा अश्वत्थामा, जो आज भी जीवित है | अश्वत्थामा की जीवनी | अश्वत्थामा की कहानी

अश्वत्थामा, जिनको द्रोणी भी कहा जाता है, क्यूंकि वे गुरु द्रोण के पुत्र थे। वह ऋषि भारद्वाज के पोते थे। एक शक्तिशाली महारथी, उन्होंने कुरुक्षेत्र के महान युद्ध के दौरान, पांडवों के खिलाफ, कौरव पक्ष से लड़ाई लड़ी थी। इनको ग्यारह रूद्रों में से एक अवतारी माना जाता है, उन्हें कुरुक्षेत्र युद्ध का एक जीवित […]

Read More
भगवान भैरव

भगवान भैरव के 8 रूपों की कथा

भगवान शिव का ही एक रूप भगवान भैरव को मान जाता है । भगवान भैरव की पूजा-अर्चना करने का विशेष महत्व माना जाता है। भगवान भैरव को कई रूपों में पूजा जाता है। भगवान भैरव के मुख्य 8 रूप माने जाते हैं। उन रूपों की पूजा करने से भगवान अपने सभी भक्तों की रक्षा करते […]

Read More
durga nau roop

नवरात्रि, दुर्गा पूजा और नवदुर्गा के नौ स्वरूप और उनकी कथा

नवरात्रि के नौ दिनों में दुर्गा माता के विभिन्न नौ रूपों की पूजा अर्चना की जाती है। जिन नौ रूपों की पूजा की जाती है उसे नवदुर्गा कहा जाता है। नवदुर्गा के नौ रूप जिसे चैत्र माह और अश्विन माह के प्रतिपदा से नवमी तक पूजा जाता है वो क्रमशः निम्नलिखित हैं। शैलपुत्री ब्रह्मचारिणी चन्द्रघंटा […]

Read More
ravan

रावण: एक असुर जिसकी बराबरी देवता भी न कर सके

भारतीय पौराणिक कथाएं अक्सर हमें कई बुद्धिमान पुरुषों और महिलाओं की कहानियां बताती हैं, जिनमें से कई सक्षम शासक और प्रशासक थे। ये पुरुष और महिलाएं अपने जीवन के शीर्ष पर पहुंचे, जिन्होंने देश के इतिहास और संस्कृति में एक अमिट छाप छोड़ी। हालाँकि, उनके पास बस एक छोटी सी असफलता थी, जो थी सफलता […]

Read More
bhishma

भीष्म पितामह की जीवनी | महाभारत के गंगापुत्र भीष्म का जीवन परिचय

भारतीय पौराणिक कथाएँ अक्सर ऐसी कहानियाँ लेकर आती हैं जो न केवल शिक्षाप्रद होती हैं, बल्कि प्रत्येक युग में समय के साथ प्रासंगिक भी होती हैं। ऐसी ही कहानी है महाभारत के भीष्म पितामह की। उनका जीवन निस्वार्थ सेवा, निष्ठा और परोपकार का एक सत्य उदाहरण है। आइए अब हम इस शक्तिशाली चरित्र, भीष्म के […]

Read More